JAYMANGAL RASA (जयमंगल रस )

Diamond

Qty ::



 घटक द्वव्य 

शुद्ध पारद, शुद्ध गंधक, सुहागे का फूला, ताम्र भस्म, वंग भस्म, स्वर्णमाक्षिक भस्म, सैँधा नमक, सफेद मिर्च, स्वर्ण भस्म, लौह भस्म, रौप्य भस्म |

उपयोग

जीर्ण ज्वर, सन्निपातज ज्वर, धातुगत ज्वर, कफ प्रकोपखांसी, अरूचि, रोगजन्य निद्रानाश।

मात्रा 65-125 मि. ग्रा. तक दिन में 2 बार
अनुपान जीरा का चूर्ण और शहद ।

News