ASHVAKANCHUKI RASA (अश्वकंचुकी रस)

शुद्ध पारद, शुद्ध गंधक, शुद्ध वत्सनाभ, सुहागे का फूला, शुद्ध हरताल, हरड़, बहेड़ा, आंवला, सौंठ, कालीमिर्च,  पीपल, शुद्ध जमालगोटा।

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

शुद्ध पारद, शुद्ध गंधक, शुद्ध वत्सनाभ, सुहागे का फूला, शुद्ध हरताल, हरड़, बहेड़ा, आंवला, सौंठ, कालीमिर्च,  पीपल, शुद्ध जमालगोटा।

भावना द्वव्य भांगरे का रस।
उपयोग

कफ, वातकफ, पित्तकफ, जीर्ण यकृत वृद्धि, शुद्ध जमालगोटा। मूर्च्छाविकार, कोष्ठबद्धता।

मात्रा   125 मि. ग्रा. से 500 मि. ग्रा.
अनुमान  जल

News