AGNITUNDI VATI( अग्नितुण्डी वटी )

शुद्ध पारद,शुद्ध गंधक,शुद्ध वतसनाभ ,हरड़,बहेड़ा ,आंवला ,सज्जीखार ,जवाखार,चीतमूल ,सैंदा नमक,जीरा ,अजमोद,समुद्र नमक, वायविडग ,कला नमक,सौंठ ,कालीमिर्च ,पीपल,शुद्ध कुचिला। 

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

शुद्ध पारद,शुद्ध गंधक,शुद्ध वतसनाभ ,हरड़,बहेड़ा ,आंवला ,सज्जीखार ,जवाखार,चीतमूल ,सैंदा नमक,जीरा ,अजमोद,समुद्र नमक, वायविडग ,कला नमक,सौंठ ,कालीमिर्च ,पीपल,शुद्ध कुचिला। 

 भावना द्वव्य 

निम्बू का रस। 

उपयोग

मन्दागिनी ,अफरा,शूल,आमातिसार ,अजीर्ण ,निर्बलता,स्वपनदोष ,हृदय रोग, सर्वांगशूल ,परिणामशूल नाशक। 

मात्रा 65 मि. ग्रा. से 125 मि. ग्रा. 
अनुपान जल। 

 

News