SUTSHEKHAR RASA (सूतशेखर रस)

शुद्ध पारद, शुद्ध गंधक, सुहागे का फूला, शुद्ध वत्सनाभ,स्वर्णमाक्षिक भस्म, ताम्र भस्म शुण्ठी, कृष्ण मरिच,पीपली, शुद्ध धतुर बीज, दालचीनी, तेजपात, नागकेसर, एला, बिल्वगिरी, शंख भस्म, कचूर।

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

शुद्ध पारद, शुद्ध गंधक, सुहागे का फूला, शुद्ध वत्सनाभ,स्वर्णमाक्षिक भस्म, ताम्र भस्म शुण्ठी, कृष्ण मरिच,पीपली, शुद्ध धतुर बीज, दालचीनी, तेजपात, नागकेसर, एला, बिल्वगिरी, शंख भस्म, कचूर।

भावना द्रव्य

भूृंगराज स्वरस ।

उपयोग

यह अम्लपित्त, खट्टी उदगार, अतिसार, शीतपित्त, निद्रा नाश, सूतिका ज्वर, वक्षदाह, कण्ठ दाह आदि रोगों में हितकर है।

मात्रा

125 मि.ग्रा. से 250 मि. ग्रा. (१-२ गोली) दिन में 2 बार ।

अनुपान

घी और शहद या मिश्री युक्त दूध 

News