SHONITARGAL RASA (शोणितार्गल रस)

यह रक्तपित,रक्तप्रदर,रक्तार्श रक्तासीसर,रक्तस्त्राव व शक्ति संरक्षण हेतु उपयोगी है  ।

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

लौह भस्म ,अभ्रक भस्म ,रसांजन ,यशद भस्म,शुभ्रा भस्म ,स्वर्ण गैरिक ,पीपल की लाख ,रक्त चन्दन ,रससिंदूर।

उपयोग

यह रक्तपित,रक्तप्रदर,रक्तार्श रक्तासीसर,रक्तस्त्राव व शक्ति संरक्षण हेतु उपयोगी है  ।

मात्रा 125 मिलीग्राम से 250  मिली  ग्राम (१-२ गोली) दिन में दो बार । 
अनुपान उशिरासव या जल।  

News