CHANDRODAYA VATI (चन्द्रोदय वटी)

पूर्ण चन्द्रोदय (मकरध्वज), कर्पूर, वंग भस्म, लौह भस्म, लौंग, जायफल, जावित्री, केशर, अकरकरा, शुद्धकुचिला, अम्बर |

Diamond

Qty ::



 

घटक द्वव्य

पूर्ण चन्द्रोदय (मकरध्वज), कर्पूर, वंग भस्म, लौह भस्म, लौंग, जायफल, जावित्री, केशर, अकरकरा, शुद्धकुचिला, अम्बर |

भावना द्रव्य 

 नागर बेल पान रस

उपयोग

यह रसायन अत्यन्त वाजीकरण योग है। नपुंसकता और निर्बलता को नष्ट करके शरीर को सुदृढ़ बनाता ह

मात्रा

60 मि.ग्रा. से 120 मि.ग्र

अनुपान दूध-मलाई ।

 

 

News