LAXMI NARAYAN RASA (लक्ष्मी नारायण रस)

शुद्ध हिंगुल, अभ्रक भस्म, शुद्ध गंधक, सुहागे का फूला,शुद्ध वत्सनाभ, निर्गुण्डी के बीज, अतिविष,  पीपली, कूड़ा की छाल, सैंधव नमक |

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

शुद्ध हिंगुल, अभ्रक भस्म, शुद्ध गंधक, सुहागे का फूला,शुद्ध वत्सनाभ, निर्गुण्डी के बीज, अतिविष,  पीपली, कूड़ा की छाल, सैंधव नमक |

भावना द्वव्य दन्ती मूल क्वाथ, त्रिफला क्वाथ
उपयोग

जीर्ण ज्वर, सूतिका ज्वर, आन्त्रिक ज्वर, विसूचिका, अतिसार, ग्रहणी, प्रमेह, बाल प्रतिश्याय, उदरशूल आदि रोगों में हितकर

मात्रा   125 मि. ग्रा. से 250 मि. ग्रा. दिन में 2 बार।
अनुपान  अदरक का रस  और शहद 

News