SAMIRPANNAG RASA-TALASTH (समीरपन्नग रस ( तलस्थ ))

शुद्ध पारद, शुद्ध गंधक, शुद्ध सोमल, शुद्ध मैनसिल, शुद्धा  हरताल

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

शुद्ध पारद, शुद्ध गंधक, शुद्ध सोमल, शुद्ध मैनसिल, शुद्धा  हरताल

भावना द्वव्य तुलसी का रस या कुंवर रस 
उपयोग

त्रिदोष व निमोनिया में घबराहट, सन्धिवात, उन्‍्माद, कास, श्वास, ज्वर, जुकाम में हितकर

मात्रा 60 मि.ग्रा. से 125 मि. ग्रा.
अनुपान नागरबेल का पान या अदरक का रस या शहद ।

 

 

News