CHANDNADI LAUHA (JWAR)(चन्दनादि लौह (ज्वर ))

 सफ़ेद चन्दन , सेमल के फूल , दालचीनी , छोटी  इलायची , तेजपात ,हरिद्रा , दारु हरिद्रा , अनन्तमूल, कृष्णा अनन्तमूल, नागरमोथा, खश, मुलेठी, आंवला, सनाय, वंशलोचन, भारंगी, देवदारु, बड़ी हरडृत्वक इन 18 औषधियों को समभाग व इन सभी के दुगनी लौह भस्म

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य  सफ़ेद चन्दन , सेमल के फूल , दालचीनी , छोटी  इलायची , तेजपात ,हरिद्रा , दारु हरिद्रा , अनन्तमूल, कृष्णा अनन्तमूल, नागरमोथा, खश, मुलेठी, आंवला, सनाय, वंशलोचन, भारंगी, देवदारु, बड़ी हरडृत्वक इन 18 औषधियों को समभाग व इन सभी के दुगनी लौह भस्म
उपयोग

पित्तज कफज प्रमेह, श्वास, अर्श, जीर्ण, ज्वर, कामला,मस्तिष्क की उष्णता, मूत्र में पीलापन, निस्तेजता, निद्राकम आना, आलस्य, मन्द ज्वर, उत्साह हीनता, पाचन शक्तिमन्द, कास में उपयोगी ।

मात्रा  250 मि. ग्रा. से 375 मि. ग्रा. दिन में 2 बार।
अनुमान    शहद 

News