SAPTVISHANTICO GUGGULU (सप्तविशिंतिको गुग्गलु )

कास ,श्वास ,शोथ,अर्श,भंगदर ,हृदय का शूल ,पसलियों का शूल ,गुदा की पीड़ा ,अश्मरी,कृमि रोग,मूत्रकच्छ,उन्माद,कुष्ठ ,उदररोग, नाड़ीव्रत ,प्रमेह। 

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

त्रिकटु,त्रिफला,नागरमोथा,वायविडंग ,गिलोय,चित्रकमूल,कचूर,इलायची,पीपलामूल,हाऊबेर,देवदारु,तुंबरू,पोखरमुल ,चव्य ,इंदरायण की जड़ ,

हल्दी,दारुहल्दी,विड़नमक,कालानमक,जवाक्षार,सज्जीक्षार,सैंधा नमक,गजपीपल,शुद्ध गुग्गल।

उपयोग

कास ,श्वास ,शोथ,अर्श,भंगदर ,हृदय का शूल ,पसलियों का शूल ,गुदा की पीड़ा ,अश्मरी,कृमि रोग,मूत्रकच्छ,उन्माद,कुष्ठ ,उदररोग,

नाड़ीव्रत ,प्रमेह। 

मात्रा 500 मिलीग्राम दिन में दो बार। 
अनुपान शहद। 

News