KALYAN NIRGUNDI TAIL (कल्याण (निर्गुण्डी ) तैल)

निर्गुण्डी (सम्हालु) जड़ व पत्र रस, तिल तैल।

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

 निर्गुण्डी (सम्हालु) जड़ व पत्र रस, तिल तैल।

उपयोग

यह तैल नाड़ीब्रण, कुष्ठ, वातजन्य वेदना, पामा, अपची रोगों में पान, अभ्यंग व पूरण करना हितकर है।

मात्रा  अन्‍्तः व ब्राह्य प्रयोगार्थ ।

 

News