NIRVISYADI VATI (निर्विष्यादि वटी)

जदवार (निर्विषी ), जहरमोहरा खताई पिष्टी, रजत के वर्क सभी समान भाग।

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

जदवार (निर्विषी ), जहरमोहरा खताई पिष्टी, रजत के वर्क सभी समान भाग।

उपयोग

यह औषधि ओजवर्धक है तथा हृदय की धड़कन,मस्तिष्क की उष्णता व शारीरिक निर्बलता दूर करती है।

मात्रा

  125 मि. ग्रा  - 250 मि. ग्रा दिन में 2 बार 

अनुपान

 खमीरा गावजवां  , चंदनादि अर्क  या गोदुग्ध 

News