GASHAR VATI (गैसहर वटी)

लवणभास्कर चूर्ण, हिंग्वाष्टक चूर्ण, सितोपलादि चूर्ण निम्बू सत्व, शुद्ध कुचीला, सुहागे का फूला, नौसादर, पीपरमेन्ट का फूला, मुनक्का |

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

लवणभास्कर चूर्ण, हिंग्वाष्टक चूर्ण, सितोपलादि चूर्ण निम्बू सत्व, शुद्ध कुचीला, सुहागे का फूला, नौसादर, पीपरमेन्ट का फूला, मुनक्का |

उपयोग

उदावर्त, आध्मान, अपचन, उदरशूल, छाती की घबराहट, मलावरोध, क्षुधानाश आदि रोगों को दूर करती है।

मात्रा

125 मि.ग्रा. से 250 मि.ग्रा. (1-2 गोली) 3-6 बार दिन में ।

अनुपान

जल।

 

 

News