SANGAJRAHAT BHASMA ( संगजराहत भस्म )

 संगजराहत के टुकड़े

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

 संगजराहत के टुकड़े

 भावना द्वव्य 

घृतकुमारी

उपयोग

श्वेत प्रदर, रक्त प्रदर, उर:क्षत, जीर्ण ज्वर, अतिसार,रक्तपित्त, धातुदौर्बल्य, मुखपाक, दाह, कर्णस्राव मेंउपयोगी है

मात्रा 500 मि,ग्रा. से । ग्राम दिन में 2 बार ।
अनुपान मलाई या मक्खन के साथ

 

News