ABHARAK BHASMA-1000 PUTI (अभ्रक भस्म(1000पुटी ))

शुद्ध धान्याभ्रक

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

 शुद्ध धान्याभ्रक

भावना द्वव्य

प्रयुक्त भावना द्रव्यों की 16-16 भावना तथा निश्चन्द्रीकरण हेतु कल्मीशोरा व गुड़।

उपयोग

निर्बलता, श्वास, कास, हृदयरोग, धातु क्षीणता, राजयक्ष्मा,पित्त प्रभाव रोग, जीर्ण यकृत शोथ, पाण्डु, कामला,संग्रहणी, उन्‍्माद, अपस्मार, प्रमेह, कुष्ठ आदि रोगों में लाभप्रद है।

मात्रा 125 मि.ग्रा. से 250 मि.ग्रा. दिन में 2 बार ।
अनुपान शहद

 

News