KRAVYAD RASA VRADH (क्रव्याद रस बृहद)

शुद्ध पारद, ताम्र भस्म, लौह भस्म। पाचन हेतु- निम्बू स्वरस |

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

शुद्ध पारद, ताम्र भस्म, लौह भस्म। पाचन हेतु- निम्बू स्वरस |

 
भावना द्रव्य

पीपल, पिपलामूल, चव्य, शुण्ठी, चित्रकमूल, अम्लवेत । सुहागा फूल, कृष्ण लवण, मरिच।

 
उपयोग

जीर्ण ज्वर, पित्त विकार, अम्लपित्त, दाह, मूर्च्छा, भ्रम,उन्माद, मगज की निर्बलता, सोमरोग, प्रदर, रक्तप्रदर,अपस्मार, मूत्रदाह, मुखपाक, रक्तार्श, सगर्भा स्त्री का वमन, मानसिक त्रास आदि में लाभदायक है।

 
भावना हेतु  चने का क्षार।  

अनुपान

मट्ठा और सैंधव

 

News