PRAWAL PANCHAMRUT-MUKTA YUKTA (प्रवाल पंचामृत मुक्त युक्त )

प्रवाल, मोती, शंख, मोती की सीप और कोड़ी | .

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

प्रवाल, मोती, शंख, मोती की सीप और कोड़ी | .

  द्वव्य 

आक का दुग्ध या गोदुग्ध ।

उपयोग

आनाह, गुल्म, उदर रोग, प्लीहा, कास, श्वास, मंदाग्नि, अजीर्ण, हृदय रोग, अतिसार, बालकों के ग्रह-उपद्रवों, प्रमेह, मूत्र रोग, अश्मरी।

मात्रा 125 मि. ग्रा. से 250 मि. ग्रा. दिन में 2 बार।
अनुपान शहद और पीपल ।

 

News