KAAMDUDHA RASA No. 2 (कामदूधा रस )

Diamond

Qty ::



घटक द्वव्य

मुक्ता पिष्टी, प्रवाल पिष्टी, शुक्ति भस्म, वराटिका भस्म, शंख भस्म, स्वर्णगैरिक, गिलोय सत्व। 

उपयोग

शीत वीर्य, क्षोमनाशक, शक्तिदायक है।पाचन क्रिया, रूधिराभिसराव, वातवहन क्रिया तथा मूत्र विकार 

मात्रा

125 मि,ग्रा. से 250 मि. ग्रा. दिन में 2 बार

अनुपान

जीरा - मिश्री एवं अम्लपित्त में आंवले का चूर्ण और घृत

News